Share Jokes

0
17

Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.


एक बार 5 साल का लड़का रो रहा था |

उसके पापा आए और उससे पूछा -बेटा क्यों रो रहे हो ? मुझे बताओ मैं तुम्हारा दोस्त हूं ना | 

बच्चा -कुछ नहीं यार जरा-सा हॉर्लिक्स क्या मांगा, तेरी आइटम तो भड़क ही गई| 

.

पापा बेहोश

😘😄😘😘😁
#ट्रेन से एक यात्री नें ट्वीट करके 

शिकायत भेजी :

   ‘‘बाकी सुविधायें भले ही न बढ़ायें

      पर bathroom में मग्गे की चैन की

     लंबाई इतनी तो बढ़ा दें कि वह मुकाम तक तो

     पहुंच सके |” 

#रेल्वे की तरफ से रिप्लाई आया :

    “मग्गा चैन से बंधा है, आप नहीं ”

😝😝😝😝😝
रात  के दो बजे चाची का मोबाईल बजा…

 चाचा चौंक कर उठा; देखा मोबाईल  पर एक मैसेज था..

ब्युटीफुल…..

चाचा ने तुरंत चाची को उठाया और गुस्से  से  पुछा…

यह  क्या  है? तुम्हे ब्युटीफुल का मैसेज  किसने  भेजा  है?

चाची  भी  चकरा  गई  कि अब  50 की उम्र मे उसे ब्यूटीफुल  कोन कहेगा भला।
जब उसने मोबाईल हाथ मे  लिया तो झल्लाकर चाचा को थप्पड़ जड दिया और बोली…

चश्मा लगाकर मोबाईल  उठाया करो  ।   

ब्युटीफुल नही बैटरीफुल लिखा है। ….. 

😃😃😃😃😃😃😃😜😜😜😜😜😅😅😅😅😅👌👌👌👌👌👌👌👌 ➖➖➖😜😜
हँसी रोक नहीं पाओगे

संस्कृत की क्लास मे गुरूजी ने पूछा = पप्पू इस श्लोक का अर्थ बताओ.

 “कर्मण्येवाधिकारस्ते मा फलेषु कदाचन”.

पप्पू = राधिका शायद रस्ते मे फल बेचने का काम कर रही है.😎

गुरूजी = मूर्ख, ये अर्थ नही होता है. चल इसका अर्थ बता:-

“बहुनि मे व्यतीतानि, जन्मानि तव चार्जुन.” 😋

पप्पू = मेरी बहू के कई बच्चे पैदा हो चुके हैं, सभी का जन्म चार जून को हुआ है.😬😑

गुरूजी गुस्सा हो गये फिर पुछा :-

“तमसो मा ज्योतिर्गमय”

पप्पु= तुम सो जाओ माँ मैं ज्योति से मिलने जाता हुँ.

गुरूजी = अरे गधे, संस्कृत पढता है कि घास चरता है. अब इसका अर्थ बता:-

“दक्षिणे लक्ष्मणोयस्य वामे तू जनकात्मजा.”

पप्पू = दक्षिण मे खडे होकर लक्ष्मण बोला जनक आजकल तो तू बहुत मजे मे है.

गुरूजी = अरे पागल, तुझे १ भी श्लोक का अर्थ नही मालूम है क्या ?

पप्पू = मालूम है ना.

गूरूजी = तो आखरी बार पूछता हूँ इस श्लोक का सही सही अर्थ बताना.-

हे पार्थ त्वया चापि मम चापि…….!

क्या अर्थ है जल्दी से बता.

पप्पू = महाभारत के युद्ध मे श्रीकृष्ण भगवान अर्जुन से कह रहे हैं कि…….. 😎

गुरूजी उत्साहित होकर बीच मे ही

कहते हैं = हाँ, शाबास, बता क्या कहा श्रीकृष्ण ने अर्जुन से……..?

पप्पू =

भगवान बोले = अर्जुन तू भी चाय पी ले, मैं भी चाय पी लेता हूँ. फिर युद्ध करेंगे.

गुरूजी बेहोश…………..

😅😅😅😀😀😀

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.
This site is using SEO Baclinks plugin created by InfoMotru.ro and Locco.Ro

SHARE WITH YOUR FRNS!!!

Leave a Reply